Dark Mode

25 जून को जयपुर में गुर्जर समाज की हूंकार महारैली, चुनावी साल में अब गुर्जर समाज दिखाएगा अपनी ताकत - गुर्जर समाज की हूंकार महारैली

25 जून को जयपुर में गुर्जर समाज की हूंकार महारैली, चुनावी साल में अब गुर्जर समाज दिखाएगा अपनी ताकत

 

 

जयपुर। हर बार जब चुनाव नजदीक आते हैं तब अलग अलग समाज अपनी ताकत का प्रदर्शन करते हैं। इस साल राजस्थान में विधानसभा चुनाव हैं। लिहाजा अलग अलग समाज शक्ति प्रदर्शन करते हुए अपनी एकता का प्रदर्शन कर रहे हैं। बीते दिनों जयपुर में जाट महाकुंभ का आयोजन हुआ। बाद में राजपूत, ब्राह्मण और यादव समाज की ओर से भी जयपुर में महारैलियों का आयोजन किया गया। अब गुर्जर समाज भी अपनी एकता का प्रदर्शन करेगा। राष्ट्रीय गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष मुखिया गुर्जर ने 25 जून को हूंकार महारैली निकाले जाने का ऐलान किया है।

 

गुर्जर समाज के अधिकारों का दमन कर दिया गया

 

मुखिया गुर्जर ने कहा कि पहले कर्नल किरोड़ीसिंह बैंसला समाज का प्रतिनिधित्व करते थे और सदन में सचिन पायलट हमारा प्रतिनिधित्व करते थे। एक ने हमें सदन के अंदर मार दिया गया और दूसरे ने केन्द्र में हमारे अधिकारों का दमन कर दिया। इसलिए अब गुर्जर समाज ऐसी रणनीति बना रहे हैं कि अपना हक मांगने के लिए गुर्जर सड़कों पर भी उतरेंगे और सदन में भी अपनी भागीदारी खुद निश्चित करेंगे। इसी के लिए 25 जून को जयपुर के मानसरोवर में महारैली का आयोजन किया जाएगा। इस महारैली में पूरे राजस्थान और देशभर के गुर्जर प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। मुखिया गुर्जर ने कहा कि हमारी मुख्य मांग गुर्जर आरक्षण विधेयक को नोवीं अनुसूची में शामिल कराना है। साथ ही सेना में अलग से गुर्जर रेजिमेंट के गठन की मांग है।

 

गद्दार कहने वालों का नक्शा बदल देंगे

 

सचिन पायलट को गद्दार कहे जाने से सवाल पूछने पर मुखिया गुर्जर ने कहा कि पन्नाधाय ने मेवाड़ की सुरक्षा के लिए अपने बेटे का सिर कलम करवा दिया था। ऐसे इतिहास वाली जाति के व्यक्ति को गद्दार कहा जाता है। इसलिए आगामी विधानसभा चुनावों में गुर्जर राजस्थान की राजनीति का नक्शा बदल देंगे। मुखिया गुर्जर ने कहा कि हमें जितनी गालियां दी गई, समाज सब देख रहा है। 25 जून को होने वाली हूंकार महारैली में सब बातों का जवाब दे दिया जाएगा। गुर्जर समाज अपने अपमान का बदला जरूर लेगा।

 

राजनैतिक फायदा उठाने वाली पार्टियों को जवाब देंगे

 

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारी फतेहसिंह गुर्जर ने कहा कि गुर्जर समाज की हूंकार महारैली एक सामाजिक महारैली है। इसमें सभी पार्टियों के गुर्जर प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा लेकिन इस महारैली को राजनैतिक कार्यक्रम नहीं बनाएंगे। हर वर्ग से जुड़े गुर्जर प्रतिनिधि इस महारैली में शामिल होंगे। फतेहसिंह गुर्जर ने कहा कि जो राजनैतिक पार्टियां गुर्जर समाज का राजनैतिक फायदा उठाती रही है, उन्हें करारा जबाव दिया जाएगा। 

Comment / Reply From

You May Also Like

Vote / Poll

राजस्थान में होने वाले राज्यसभा चुनाव 2023 में कौन जीतेगा

View Results
Congress
50%
BJP
50%
Rashtriya Loktantrik Party
0%
other
0%

Newsletter

Subscribe to our mailing list to get the new updates!