Dark Mode

'हिन्दुओं का पलायन जारी है...' के पोस्टर्स पर छिड़ी राजनीति - मकान बेचने वाले अजय कुमार पारीक की जुबान से जानिए इस प्रोपेगेंडा की सच्चाई

'हिन्दुओं का पलायन जारी है...' के पोस्टर्स पर छिड़ी राजनीति



जयपुर। जयपुर के परकोटा क्षेत्र में कुछ मकानों के आगे पोस्टर लगे हैं जिन पर लिखा है कि 'किशनपोल विधानसभा क्षेत्र से हिन्दुओं का पलायन जारी' है। साथ में यह भी लिखा है कि पलायन के जिम्मेदार स्थानीय पार्षद फरीद कुरैशी है। हिन्दुओं के पलायन वाले ये पोस्टर सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहे हैं। चूंकि किशनपोल विधानसभा सीट से अमीन कागजी विधायक हैं। मुस्लिम विधायक होने के कारण ये पोस्टर अब सियासी मुद्दा बन गए हैं। बीजेपी के नेताओं का आरोप है कि कांग्रेस तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। यही कारण है कि हिन्दुओं को परेशान होना पड़ रहा है।

 

बिना दबाव के बेचा मकान - अजय पारीक

 

जयपुर के परकोटा क्षेत्र में रहने वाले अजय कुमार पारीक ने कुछ दिनों पहले अपना मकान बेचा था। कल्याणजी के रास्ते में स्थित मकान नंबर 2822 काफी सालों पुराना बना हुआ था। अजय पारीक पिछले कई सालों से मकान बेचने की सोच रहे थे। उनका मन था कि मकान कोई हिन्दू ही खरीदे तो अच्छा है। कई ग्राहक आए लेकिन कोई न कोई कमी निकाल पर वे मकान खरीदा। जो भी हिन्दू ग्राहक आए उन्होंने मकान को पसंद नहीं किया। अजय पारीक ने बताया कि पिछले दिनों सेंट्रल पार्क फरीद कुरैशी के भांजे से मुलाकात हुई तो उन्होंने ने मकान बेचने का जिक्र किया। इसी दौरान कुरैशी के भांजे ने खुद के लिए मकान की जरूरत होना बताया। बाद में दोनों परिवारों ने बैठकर बातचीत की जिसके बाद मकान का सौदा तय हो गया। अजय पारीक का कहना है कि उन्होंने अपना मकान किसी के दबाव में आकर नहीं बेचा।

 

मकान के सामने भरा रहता था पानी और रुपयों की जरूरत थी - पारीक

 

अजय पारीक द्वारा एक मुस्लिम को मकान बेचने पर सियासत तेज हो गई लेकिन मकान बेचने वाले अजय पारीक का कहना है कि वे मकान के बाहर रास्ते में पानी भर जाने से परेशान थे। कई सालों बाद भी पानी की निकासी का कोई हल नहीं निकला। आसपास के लोग भी मदद करने के बजाय झगड़ा करने लग जाते थे। उनके घर के पास खटीकों का मोहल्ला है और अन्य पड़ोसी भी हिन्दू हैं। घर के पीछे की तरफ चार मकान मुसलमानों के हैं लेकिन मुसलमानों से उनका कभी कोई झगड़ा नहीं हुआ। पारीक ने कहा कि उन्होंने आगे बढ़कर अपने परिचित फरीद कुरैशी को मकान बेचा था। इसे हिंदू मुस्लिम से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। हिन्दुओं के पलायन जैसी कोई बात नहीं है।

 

ये सब कुछ लोगों द्वारा फैलाया गया प्रोपेगेंडा है - अजय पारीक

 

अजय पारीक खुद विश्व हिन्दू परिषद से जुड़े हुए हैं। जब से उनके द्वारा एक मुस्लिम को मकान बेचने की जानकारी मिली तो संगठन से जुड़े कई लोगों के फोन आने लगे। परेशान होकर पारीक ने कॉल रिसीव करना बंद कर दिया। उनके द्वारा मकान बेचने पर राजनीति होने पर अजय पारीक का कहना है कि मुसलमानों से परेशान होकर मकान बेचने के आरोप सरासर गलत हैं। कुछ लोगों द्वारा जानबूझकर ऐसा प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है। यह सब स्थानीय विधायक के खिलाफ राजनैतिक षड्यंत्र से ज्यादा कुछ नहीं है।

 

तीज-त्योहार और शादी समारोह में सब साथ बैठते हैं

 

अजय कुमार पारीक का कहना है कि कल्याण जी के रास्ते में हिन्दू और मुस्लिम दोनों समुदायों के लोग रहते हैं। यहां कभी कोई धार्मिक बात पर झगड़ा नहीं हुआ। तीज त्यौहार और शादी समारोह के दौरान यहां हिन्दुओं के घरों में मुस्लिम समुदाय के लोक खाना खाने आते हैं और जब मुस्लिम समुदायों के परिवारों में कोई आयोजन होता है तो हिन्दू परिवार वहां दावत खाने जाते हैं। इन दिनों जो लोग धार्मिक पोस्टर लगाकर माहौल खराब करना चाहते हैं। वे सरासर गलत है।

Comment / Reply From

You May Also Like

Vote / Poll

राजस्थान में होने वाले राज्यसभा चुनाव 2023 में कौन जीतेगा

View Results
Congress
50%
BJP
50%
Rashtriya Loktantrik Party
0%
other
0%

Newsletter

Subscribe to our mailing list to get the new updates!